हिन्दू महासभा ने कश्मीर से अफस्पा हटाने की महबूबा मुफ्ती की मांग का विरोध किया

नई दिल्ली, 27 जुलाई, 2016

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक, राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने कश्मीर से अफस्पा हटाने की जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की मांग का तीव्र विरोध किया है और कहा है कि अफस्पा हटाने की मांग सुरक्षा बलों के मनोबल को तोड़ने वाला तथा आंतकियों के मनोबल को बढ़ाने वाला है। महबूबा मुफ्ती की नीतियों से कश्मीर में शंाति बहाली कभी भी नहीं हो सकती है। हिन्दू महासभा नेताओं का कहना है कि जम्मू-कश्मीर की समस्या का समाधान तभी संभव होगा, जब संविधान की धारा-370 को समाप्त कर जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त किया जाये तथा पूरे प्रदेश को भारतीय सेना को सुयुर्द किया जाये। हिन्दू महासभा के नेताओं ने केन्द्रीय गृह मंत्री के सुरक्षा बलों द्वारा पेलेट गन का इस्तेमाल नहीं करने के सुझाव पर अपनी असहमति व्यक्त की है। हिन्दू महासभा के नेताओं ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से पूछा है कि यदि पेलेट गन का इस्तेमाल नहीं होगा तो उपद्रवियों से निपटने के लिये सरकार के पास क्या योजना है गृह मंत्री द्वारा पेलेट गन का इस्तेमाल नहीं करने तथा उपद्रवियों को एअर एंबुलेंस द्वारा दिल्ली लाकर इलाज कराने की घोषणा जम्मू-कश्मीर में शांति बहाली की दिशा में सबसे बड़ा रोड़ा साबित होगा। इससे अलगाववादियों, आतंकियों व इसके आका पाकिस्तान का मनोबल बढ़ने के अतिरिक्त कुछ नहीं होगा।

वीरेश त्यागी
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

हिन्दू महासभा द्वारा समान नागरिक कानून बनाने की मांग

प्रतिष्ठा में,
श्री नरेन्द्र मोदी जी,
माननीय प्रधानमंत्री,
भारत सरकार।

विषयः-समान नागरिक कानून बनाने की मांग।

महोदय,
भारत की एकता एवं अखंडता को मजबूत बनाने तथा देश के सभी नगारिकों को समान अधिकार व अवसर प्रदान करने के लिये देश में निम्न कानून शीघ्र बनाने की कृपा करेंः-

1. देश में हिन्दुओं, मुसलमानों, ईसाईयों सहित सभी संप्रदाय के लोगों के लिये एक समान नागरिक कानून शीघ्र बनायें।

2. हिन्दुओं, मुसलमानों, ईसाईयों सहित सभी संप्रदाय के लोगों के विवाह का पंजीकरण अनिवार्य किया जाये। इस संबंध में केन्द्रीय कानून शीघ्र बनायें।

3.देश के सभी नागरिकों के लिये एक विवाह व अधिकतम दो बच्चे का कानून शीघ्र बनायें। जो इस कानून का पालन न करें उसका मताधिकार व सरकार की ओर से दी जा रही सहायता अविलम्ब समाप्त किया जाये।

4. संविधान की धारा-370 को समाप्त कर जम्मू-कश्मीर को दिया गया विशेष दर्जा समाप्त किया जाये तथा केन्द्र सरकार के सभी कानूनों को जम्मू-कश्मीर राज्य में लागू किया जाये।

5. अमरनाथ यात्रा को सुचारू रूप से चलाने के लिये विशेष कानून बनाया जाये तथा इस यात्रा में व्यवधान पैदा करने वाले आंतकियों व राष्ट्रविरोधी तत्वों से निपटने के लिये भारतीय सेना को विशेष अधिकार प्रदान किया जाये।

6. केन्द्र सरकार व जम्मू-कश्मीर सरकार की ओर से अमरनाथ यात्रियों के लिये भोजन, ठहरने व सुरक्षा की चाक चैबन्द व्यवस्था करायी जाये।

सादर,
भवदीय

(मुन्ना कुमार शर्मा) (वीरेश त्यागी)
राष्ट्रीय महासचिव राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

देश की एकता-अखंडता की रक्षा, देेश सुरक्षा व्यवस्था को चाक चैबन्द करने व आंतकवाद को समाप्त करने के लिये आवश्यक निर्णय लेने की मांग।

प्रतिष्ठा में,
श्री नरेन्द्र मोदी जी,
माननीय प्रधानमंत्री,
भारत सरकार।

विषयः-देश की एकता-अखंडता की रक्षा, देेश सुरक्षा व्यवस्था को चाक चैबन्द करने व आंतकवाद को समाप्त करने के लिये आवश्यक निर्णय लेने की मांग।

महोदय,
जम्मू-कश्मीर सहित पूरे देश की आंतरिक सुरक्षा व कानून-व्यवस्था का संज्ञान लेने की कृपा करें। पाकिस्तान समर्थित आंतकी गिरोहों के द्वारा भारतीय सीमा में अवैध घुसपैठ जारी है। आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था को चुनौेती दी जा रही है। पवित्र अमरनाथ यात्रा मेें व्यवधान डालकर देश के सांप्रदायिक माहौल का बिगाड़ा जा रहा हैै। देश में अशांति फैलाकर मुस्लिम युवकों को आई.एस. में शामिल करने के लिये उकसाया जा रहा है। ऐसी परिस्थिति में राष्ट्रहित को देखते हुए तथा देश की एकता-अखंडता की रक्षा, देेश की सुरक्षा व्यवस्था को चाक चैबन्द करने व आंतकवाद को समाप्त करने के लिये निम्नलिखित निर्णय लेने की कृपा करेंः-

1.जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती सरकार को बर्खास्त कर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लागू किया जाये।
2.पूरे जम्मू-कश्मीर को भारतीय सेना को सुपुर्द किया जाये तथा कश्मीर में आंतकवाद को समाप्त करने के लिये सेना को पूर्ण अधिकार दिया जाये।
3.भारतीय सीमा में अवैध घुसपैठ को रोकने तथा आंतकवाद पर लगाम के लिये पाकिस्तान स्थित आंतकियों के प्रशिक्षण शिविरों को ध्वस्त किया जाये।
4.जब तक पाकिस्तान आतंकियों का समर्थन करना बंद न करे, तब तक पाकिस्तान से सभी राजनयिक संबंध समाप्त किया जाये।
5.अमरनाथ यात्रा में उत्पन्न सभी व्यवधानों को समाप्त किया जाये तथा अमरनाथ यात्रियों को पूर्ण सुरक्षा तथा सुविधायें दी जायें।
6.देश में सांप्रदायिकता फैलाने के लिये देशद्रोही मुस्लिम कट्टरपंथी जाकिर नायक पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया जाये तथा उसकी संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन का एफसीआरए रजिस्टेªशन रद्द हो।
7.भारतीय संविधान की धारा-370 को समाप्त कर कश्मीर को मिले विशेष दर्जे को समाप्त किया जाये।
8.केन्द्रीय कानून बनाकर पूरे देश में गौहत्या को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया जाये तथा गोवंश की रक्षा के लिये ठोस कानून बनाया जाये।
9.देश में एक समान नागरिक कानून शीघ्र बनाया जाये।

सादर,
भवदीय

(चन्द्रप्रकाश कौशिक) (मुन्ना कुमार शर्मा) (वीरेश त्यागी)
राष्ट्रीय अध्यक्ष राष्ट्रीय महासचिव राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

राष्ट्रहित व देश की एकता-अखंडता की रक्षा के लिये महत्वपूर्ण आदेश शीघ्र देने की मांग।

प्रतिष्ठा में,
श्री राजनाथ सिंह जी,
माननीय गृहमंत्री,
भारत सरकार।

विषयः- राष्ट्रहित व देश की एकता-अखंडता की रक्षा के लिये महत्वपूर्ण आदेश शीघ्र देने की मांग।

महोदय,
जम्मू-कश्मीर सहित पूरे देश की आंतरिक सुरक्षा व कानून-व्यवस्था का संज्ञान लेने की कृपा करें। पाकिस्तान समर्थित आंतकी गिरोहों के द्वारा भारतीय सीमा में अवैध घुसपैठ जारी है। आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था को चुनौेती दी जा रही है। पवित्र अमरनाथ यात्रा मेें व्यवधान डालकर देश के सांप्रदायिक माहौल का बिगाड़ा जा रहा हैै। देश में अशांति फैलाकर मुस्लिम युवकों को आई.एस. में शामिल करने के लिये उकसाया जा रहा है। ऐसी परिस्थिति में राष्ट्रहित को देखते हुए तथा देश की एकता-अखंडता की रक्षा के लिये निम्नलिखित आदेश शीघ्र देने की कृपा करेंः-

1.जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती सरकार को बर्खास्त कर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लागू किया जाये।
2.पूरे जम्मू-कश्मीर को भारतीय सेना को सुपुर्द किया जाये तथा कश्मीर में आंतकवाद को समाप्त करने के लिये सेना को पूर्ण अधिकार दिया जाये।
3.भारतीय सीमा में अवैध घुसपैठ को रोकने तथा आंतकवाद पर लगाम के लिये पाकिस्तान स्थित आंतकियों के प्रशिक्षण शिविरों को ध्वस्त किया जाये।
4.जब तक पाकिस्तान आतंकियों का समर्थन करना बंद न करे, तब तक पाकिस्तान से सभी राजनयिक संबंध समाप्त किया जाये।
5.अमरनाथ यात्रा में उत्पन्न सभी व्यवधानों को समाप्त किया जाये तथा अमरनाथ यात्रियों को पूर्ण सुरक्षा तथा सुविधायें दी जायें।
6.देश में सांप्रदायिकता फैलाने के लिये देशद्रोही मुस्लिम कट्टरपंथी जाकिर नायक पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया जाये।

सादर,
भवदीय

(चन्द्रप्रकाश कौशिक) (मुन्ना कुमार शर्मा) (वीरेश त्यागी)
राष्ट्रीय अध्यक्ष राष्ट्रीय महासचिव राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

गौतमबुद्धनगर जिला अदालत के निर्णयानुसार बिसाहड़ा के गौहत्यारों पर तुरन्त मुकदमा दर्ज करने व गिरफ्तार कर जेल भेजने की मांग।

प्रतिष्ठा में,
श्री राम नाईक जी,
माननीय राज्यपाल,
उŸारप्रदेश।

विषयः- गौतमबुद्धनगर जिला अदालत के निर्णयानुसार बिसाहड़ा के गौहत्यारों पर तुरन्त मुकदमा दर्ज करने व गिरफ्तार कर जेल भेजने की मांग।

महोदय,
कृपया दादरी, गौतमबुद्धनगर के बिसाहड़ा गांव में 28 सितम्बर 2015 को हुई गौहत्या के मुकदमे के संबंध में गौतमबुद्धनगर जिला अदालत के निर्णय का संज्ञान लेने की कृपा करें। अदालत ने गौहत्या के आरोप में मृतक अखलाक सहित उसके परिवार के सात लोगों के विरूद्ध गोकशी का केस दर्ज करने का आदेश दिया है।
अतः आपसे अनुरोध है कि अदालत के निर्णयानुसार मृतक इखलाख सहित उसके परिवार के सात लोगों के विरूद्ध गोकशी का मुकदमा शीघ्र दर्ज करें, दोषियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाये, गौरक्षा हेतु बने कानूनों का पालन मजबूती से करें तथा जेल में बंद बिसाहड़ा के निर्दोषों को तुरन्त रिहा करें।
सादर,

भवदीय

(मुन्ना कुमार शर्मा) (वीरेश त्यागी)
राष्ट्रीय महासचिव राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

हिन्दू महासभा ने योग दिवस पर योग सम्मेलन का किया आयोजन

नई दिल्ली, 21 जून, 2016

आज अखिल भारत हिन्दू महासभा ने अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर नई दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय हिन्दू महासभा भवन में योग सम्मेलन का आयोजन किया। इस अवसर पर योग के प्रषिक्षकांे ने उपस्थितजनों को योग व प्राणायाम का प्रषिक्षण दिया तथा विभिन्न रोगों के उपचार के लिये उपयोगी योगासनों व प्राणायाम की जानकारी दी। इस अवसर पर अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय महांमत्री मुन्ना कुमार शर्मा, राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी, दिल्ली प्रदेषाध्यक्ष सुनील कुमार सहित सैकड़ों हिन्दू महासभा कार्यकर्ताओं ने योग सम्मेलन में भाग लिया तथा योगासनों व प्राणायाम का प्रषिक्षण प्राप्त किया। राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक ने उपस्थितजनों को योग की शुभकामनाएं दीं तथा कहा कि योग विज्ञान के कारण पूरी दुनिया में भारत का डंका बज रहा है। इसलिये हमें योग का विकास करना है। राष्ट्रीय महांमत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने एक समुदाय विषेष के कुछ धर्म गुरूओं की आपत्तियों का विरोध करते हुए कहा है कि इससे किसी की संप्रदाय को कोई नुकसान नहीं है। योग एक विज्ञान है। यह सबको समान लाभ देता है। इसलिये योग प्राणायाम के प्रषिक्षण में सभी सम्प्रदाय के लोगों को भाग लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि ओम के उच्चारण से मन को शांति मिलती है तथा तनाव दूर होता है। इसलिये इसे सभी को अपनाना चाहिए। राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने कहा कि दिल्लीवासियों के लाभ के लिये समय-समय पर योग सम्मेलनों का आयोजन हिन्दू महासभा द्वारा होता रहेगा। हिन्दू महासभा योग के प्रचार-प्रसार के कार्य को प्रमुखता से करेगी।

मुन्ना कुमार शर्मा
राष्ट्रीय महामंत्री

कैराना से हिन्दुओं के पलायन के विरोध में हिन्दू महासभा ने आज (16-6-2016) संसद पर किया जोरदार प्रदर्शन

नई दिल्ली, 16 जून, 2016

आज अखिल भारत हिन्दू महासभा ने उत्तरप्रदेष के कैराना से हिन्दुओं के पलायन को रोकने, मथुरा हिंसा के दोषियों को सजा दिलाने, मथुरा हिंसा की जांच सीबीआई से कराने, दादरी के बिसाहड़ा गांव में अरवलाक के परिवार पर गौहत्या का मुकदमा दर्ज कराने व उत्तर प्रदेष में राष्ट्रपति शासन लागू करने के लिये नई दिल्ली स्थित जंतर-मंतर पर धरना व भारत की संसद पर जोरदार प्रदर्षन किया। अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा, राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी, दिल्ली प्रदेषाध्यक्ष सुनील कुमार, मध्य प्रदेष के प्रदेषाध्यक्ष मोहन लाल वर्मा, उत्तर प्रदेष के प्रदेष संयोजक मुकेष पटेल, साध्वी पूर्वी साक्षी, पूजा शकुन पांडेय, राकेष रंजन, संपन दत्ता, योगेन्द्र वर्मा, गौरव मेहरोत्रा,कानपुर के हिन्दू महासभा नेता जगदीष प्र. मिश्रा, दीपेन्द्र सिंह, गिरीष खरे, राजन शास्त्री, डा.ए.एन. शुक्ल, प्रवीण त्यागी आदि ने प्रर्दषनकारियों को संबोधित किया। धरना – प्रर्दषन के उपरांत अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय नेताओं के एक प्रतिनिधि मंडल ने भारत के महामहिम राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी एवं भारत सरकार के गृहमंत्री राजनाथ सिंह को अपनी मांगांे का ज्ञापन सौंपा। प्रर्दषनकारियों को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक ने कहा कि उत्तर प्रदेष के कैराना से बड़े पैमाने पर हिन्दुओं का पलायन हो रहा हैं। उत्तर प्रदेष सरकार की शह पर मुस्लिम अपराधी हिन्दुओं को डरा-धमका रहे हंै। भय के कारण हिन्दू पलायन को मजबूर हंै। उन्होंने उत्तर प्रदेष में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की।
राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा कि कैराना को दूसरा कष्मीर बनने नहीं दिया जायेगा। हिन्दू महासभा कैराना के हिन्दुओं की सुरक्षा के लिये राष्ट्रव्यापी आंदोलन करेगी। श्री शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार व प्रषासन की मिली भगत से मथुरा में जवाहर पार्क पर नवसलियों का अवैध कब्जा कराया गया। जब कब्जा छुड़ाने पुलिस गई तो नक्सलियों ने दो जांबाज पुलिस अधिकारियों की हत्या कर दी। उन्होंने मथुरा हिंसा के दोषियों पर कानूनी कार्रवाई करने तथा इस कांड की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने कहा कि दादरी के बिसाहड़ा गांव में अरवलाक व उसके परिवार के द्वारा गौवंष की हत्या की गई। परन्तु गौहत्यारों पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ। उलटे गौहत्या का विरोध करने वाले हिन्दू युवकों को जेल में बंद कर दिया गया। उन्होनें गौहत्यारों पर तुरन्त मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। दिल्ली प्रदेषाध्यक्ष सुनील कुमार ने देष में गौहत्या पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने हेेतु केन्द्रीय कानून शीघ्र लागू करने की मांग की है। उत्तर प्रदेष हिन्दू महासभा के नेता मुकेष पटेल, पूजा शकुन पांडेय, दीपेन्द्र सिंह, गिरिष खरे, राजन शास्त्री, ए.एन.शुक्ल आदि ने प्रदर्षनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेष की समाजवादी पार्टी की सरकार हिन्दू विरोधी कार्यो में लिप्त है। इस सरकार ने पहले मुजफ्फरनगर दंगा कराया और अब कैराना सहित पष्चिम उत्तर प्रदेष से हिन्दुओं का पलायन कराकर पुनः साम्प्रदायिक दंगे कराना चाह रही है। अखिलेष यादव की सरकार में पूरे प्रदेष में हिन्दू भय व आतंक के षिकार हैं। इसलिये उत्तर प्रदेष की सपा सरकार को बर्खास्त कर राज्य में राष्ट्रपति शासन शीघ्र लागू किया जाये।

(मुन्ना कुमार शर्मा) (वीरेष कुमार त्यागी)
राष्ट्रीय महामंत्री राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

श्री प्रणव मुखर्जी जी, महामहिम भारत के राष्ट्रपति को ज्ञापन।

प्रतिष्ठा में,
श्री प्रणव मुखर्जी जी,
महामहिम भारत के राष्ट्रपति।

विषयः कैराना में हिन्दुओं के पलायन को रोकने, मथुरा हिंसा के दोषियों को सजा दिलाने, बिसाहड़ा में गौहत्यारों पर मुकदमा दर्ज करने व उत्तर प्रदेष में राष्ट्रपति शासन लागू करने हेतु ज्ञापन।

महोदय,
आपको ज्ञात हो कि उत्तरप्रदेष के षामली जिला स्थित कैराना में हिन्दुओं का बड़े स्तर पर उत्पीड़न व पलायन हो रहा है। मुस्लिम असामाजिक तत्वों द्वारा हिन्दुओं को डरा-धमकाकर भगाया जा रहा है। मथुरा में एक बड़े उद्यान पर नक्सलियों का कब्जा कराया गया जिसमें हुई हिंसा में दो जंाबाज पुलिस अधिकारी मारे गये। दादरी के बिसाहड़ा गांव मंे अरवलाक व उसके परिवार के सदस्यों द्वारा गौ हत्या की गई। परन्तु गौहत्यारों पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ। उन घटनाओं के कारण उत्तर प्रदेष में हिन्दू दहषत व डर का जीवन जी रहे हैं। राज्य सरकार द्वारा मुस्लिम कट्टरपंथियों व असामाजिक तत्वों को बढ़ावा दिया जा रहा है तथा हिन्दुओं को डराया – धमकाया जा रहा है। परिणाम स्वरूप उत्तर प्रदेष में साम्प्रदायिक तनाव बढ़ता जा रहा है।
आपसे अनुरोध है कि राष्ट्रहित व हिन्दू हित में निम्नलिखित मांगांे पर शीघ्र कार्यवाही करने की कृपा करेंः-

1. उत्तर प्रदेष की समाजवादी पार्टी की सरकार को तत्काल बर्खास्त कर प्रदेष में राष्ट्रपति शासन लगाया जाये।
2. उत्तर प्रदेष के शामली जिला स्थित कैराना से हिन्दुओं के पलायन को तत्काल रोका जाये तथा पलायन कराने वाले मुस्लिम अपराधियों पर कानूनी कार्रवाई की जाये।
3. उत्तर प्रदेष के मथुरा हिंसा के दोषियों पर कानूनी कार्यवाही की जाये तथा इसकी जांच सीबीआई से करायी जाये।
4. दादरी के बिसाहड़ा में अरवलाक के परिवार पर गौहत्या का मुकदमा दर्ज किया जाये तथा फर्जी तरीके से फंसाये गये हिन्दू युवकों को जेल से रिहा किया जाये।
5. गौवंष की हत्या पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के लिये केन्द्रीय कानून शीघ्र लागू किया जाये।

श्री राजनाथ सिंह जी, माननीय गृह मंत्री को ज्ञापन।

प्रतिष्ठा में,
श्री राजनाथ सिंह जी,
माननीय गृह मंत्री,
भारत सरकार।

विषयः कैराना में हिन्दुओं के पलायन को रोकने, मथुरा हिंसा के दोषियों को सजा दिलाने, बिसाहड़ा में गौहत्यारों पर मुकदमा दर्ज करने व उत्तर प्रदेष में राष्ट्रपति शासन लागू करने हेतु ज्ञापन।

महोदय,
आपको ज्ञात हो कि उत्तरप्रदेष के षामली जिला स्थित कैराना में हिन्दुओं का बड़े स्तर पर उत्पीड़न व पलायन हो रहा है। मुस्लिम असामाजिक तत्वों द्वारा हिन्दुओं को डरा-धमकाकर भगाया जा रहा है। मथुरा में एक बड़े उद्यान पर नक्सलियों का कब्जा कराया गया जिसमें हुई हिंसा में दो जंाबाज पुलिस अधिकारी मारे गये। दादरी के बिसाहड़ा गांव मंे अरवलाक व उसके परिवार के सदस्यों द्वारा गौ हत्या की गई। परन्तु गौहत्यारों पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ। उन घटनाओं के कारण उत्तर प्रदेष में हिन्दू दहषत व डर का जीवन जी रहे हैं। राज्य सरकार द्वारा मुस्लिम कट्टरपंथियों व असामाजिक तत्वों को बढ़ावा दिया जा रहा है तथा हिन्दुओं को डराया – धमकाया जा रहा है। परिणाम स्वरूप उत्तर प्रदेष में साम्प्रदायिक तनाव बढ़ता जा रहा है।
आपसे अनुरोध है कि राष्ट्रहित व हिन्दू हित में निम्नलिखित मांगांे पर शीघ्र कार्यवाही करने की कृपा करेंः-

1. उत्तर प्रदेष की समाजवादी पार्टी की सरकार को तत्काल बर्खास्त कर प्रदेष में राष्ट्रपति शासन लगाया जाये।
2. उत्तर प्रदेष के शामली जिला स्थित कैराना से हिन्दुओं के पलायन को तत्काल रोका जाये तथा पलायन कराने वाले मुस्लिम अपराधियों पर कानूनी कार्रवाई की जाये।
3. उत्तर प्रदेष के मथुरा हिंसा के दोषियों पर कानूनी कार्यवाही की जाये तथा इसकी जांच सीबीआई से करायी जाये।
4. दादरी के बिसाहड़ा में अरवलाक के परिवार पर गौहत्या का मुकदमा दर्ज किया जाये तथा फर्जी तरीके से फंसाये गये हिन्दू युवकों को जेल से रिहा किया जाये।
5. गौवंष की हत्या पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के लिये केन्द्रीय कानून शीघ्र लागू किया जाये।

अखिल भारत हिन्दू महासभा द्वारा 16 जून 2016 प्रातः 10:00 बजे स्थान : जंतर मंतर, नई दिल्ली में विशाल धरना प्रदर्शन

अखिल भारत हिन्दू महासभा द्वारा 16 जून 2016 प्रातः 10:00 बजे स्थान : जंतर मंतर नई दिल्ली में विशाल धरना प्रदर्शन और सभी हिन्दू देश भक्तों से अधिक से अधिक संख्या में शामिल होने की अपील
विषय : कैराना में हिन्दुओं के पलायन को रोकने मथुरा हिंसा के दोषियों को सजा दिलाने बिसाहड़ा में गोहत्यारों पर मुकदमा दर्ज करने व उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लागू करना