Category Archives: Press Release

हिन्दू महासभा ने केन्द्र सरकार द्वारा तीन तलाक पर अध्यादेष पारित करने का समर्थन किया

नई दिल्ली,19 सितम्बर 2018

हिन्दू महासभा ने केन्द्र सरकार द्वारा तीन तलाक पर अध्यादेष पारित करने का समर्थन किया

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा तीन तलाक से संबंधित अध्यादेष को पारित करने का स्वागत किया है तथा कहा है कि हिन्दू महासभा इस अध्यादेष का पूर्ण समर्थन करेगी। हिन्दू महासभा नेताओें ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा है कि इस अध्यादेष से मुस्लिम महिलाओं का शोषण बंद होगा। तलाक बिल को राज्यसभा में पारित नहीं होने देने के लिये कांग्रेस पार्टी की निन्दा की है। उन्हांने कहा है कि कांग्रेस पार्टी मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों के प्रति गंभीर नहीं है। कांग्रेस पार्टी मुस्लिम कटटरपंथियों के इषारे पर काम करती है। इसीलिये तीन तलाक के बिल का विरोध कर रही है। हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि मौलाना और मुस्लिम धर्मगुरू मुस्लिम महिलाओं का शोषण जारी रखना चाहते हैं । इसीलिये वे लोग तीन तलाक पर कोई कानून बनाने के पक्ष में नही हैं। हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि  जब भारत के उच्चतम न्यायालय ने तीन तलाक को गैर-कानूनी घोषित किया है, उसकें बाद भी तीन तलाक के मामले समाप्त नहीं हुए हैं। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद भी तीन तलाक के सैकड़ों मामले हुए हैं। यह साबित करता है कि जब तक तीन तलाक पर कड़ा कानून नहीं बनेगा, तब तक मुस्लिम पुरूष तीन तलाक देते रहेंगे।

(मुन्ना कुमार शर्मा)
महासचिव

बलात्कारी आसिफ खान (आषु भाई गुरू) लवजेहाद का सरगना है, आसिफ और उसके बेटे समर खान को फांसी दी जाये-हिन्दू महासभा

नई दिल्ली,12 सितम्बर 2018

बलात्कारी आसिफ खान (आषु भाई गुरू) लवजेहाद का सरगना है, आसिफ और उसके बेटे समर खान को फांसी दी जाये-हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा है कि बलात्कारी आसिफ खान ( आषु भाई गुरू) लवजेहाद  सरगना है। वह कथित हिन्दू बाबा बनकर लवजेहाद की फैक्ट्री चलाता है। उसने ज्योतिष,तंत्र-मंत्र, जादू-टोना एवं बीमारी को ठीक करने के नाम पर कई महिलाओं का शारीरिक शोषण किया है। इस घिनौने कार्य नें उसका बेटा समर खान उसमे बराबर जिम्मेदार है। दोनों पिता-पुत्रों का एक ही कार्य है हिन्दू लडकियों को फंसाना व उसका शारीरिक शोषण करना। पहले हिन्दू लड़कियों को बहला- फुसलाकर,जादू-टोना एवं बीमारी ठीक करने के नाम पर फंसाता है तथा उसका शारीरिक शोषण करता है। फिर बाद में उसका मुस्लिम पुरूषों से संपर्क करा देता है। यदि पुलिस उसकी कड़ाई और निष्पक्षता से जांच करे तो बड़े षडयंत्र का पर्दाफाष होगा।
अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मांग की है कि हिन्दू विरोधी, राष्ट्रविरोधी, महिलाओं के शोषण बलात्कारी असिफ खान ( आषु भाई गुरू) और उसके बेटे समर खान के करतूतों की उच्च स्तरीय जांच करायी जाये तथा दोनां को फांसी पर लटकाया जाये।

(मुन्ना कुमार शर्मा)
राष्ट्रीय महासचिव
अखिल भारत हिन्दू महासभा
फोनः 9312177979

हिन्दू न्यायपीठ बनाने के मामले में हिन्दू महासभा ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में जमा कराया शपथपत्रः हिन्दू महासभा

हिन्दू न्यायपीठ बनाने के मामले में हिन्दू महासभा ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में जमा कराया शपथपत्रः हिन्दू  महासभा
नई दिल्ली,12 सितम्बर 2018

अखिल भारत हिन्दू महासभा ने हिन्दू न्यायापीठ बनाने के मामले में चल रहे मुकदमें में इलाहाबाद उच्च न्यायालय में शपथ-पत्र जमा  कर दिया है। 11 सितम्बर की तारीख पर राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा स्वयं उपस्थित रहे तथा शपथ पत्र सौंपा। हिन्दू महासभा द्वारा नवनियुक्त हिन्दू न्यायाधीष डा‐ पूजा शकुन पांडेय ने भी न्यायालय में शपथ पत्र जमा करा दिया है। शपथ पत्र जमा कर अखिल भारत हिन्दू महासभा ने यह स्पष्ट कर दिया है कि हिन्दू न्यायापीठ एक कानूनी सहायता एवं मध्यस्थता केन्द्र के रूप  में कार्य करेगी। वहीं जब शरिया अदालतें चल रही हैं, तो हिन्दू न्यायापीठ में क्या आपति हो सकती है। शपथ पत्र में हिन्दू महासभा ने यह भी कहा है कि यदि हिन्दुस्तान से शरिया अदालतें बंद कर दी जाये, तो हिन्दू महासभा भी हिन्दू न्यायापीठ बनाना बंद कर देगी। हिन्दू महासभा ने कहा है कि गरीब हिन्दुओं को न्याय नहीं मिल पाता है। साथ-ही हिन्दुओं के लिये कोई कानूनी परामर्ष केन्द्र नहीं है, जिससे हिन्दुओं में आपसी  झगडे़ बढ़ रहे हैं। न्यायतंत्र महंगा भी है। जिस कारण हिन्दू न्यायपीठ गरीब हिन्दुओं को न्याय दिलाने के लिये आर्थिक व कानूनी सहयोग भी करेगी।

(वीरेष त्यागी)
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

हिन्दू महासभा ने पांच सदस्यीय ’हिन्दू न्यायपीठ चयन समिति’ का किया गठन, दो प्रवक्ता भी किये गये नियुक्त

नई दिल्ली, 30 अगस्त 2018

आज नई दिल्ली स्थित हिन्दू महासभा भवन में अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक हुई। बैठक में पांच सदस्यीय ’हिन्दू न्यायपीठ चयन समिति’ का गठन किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाष कौषिक ने बताया कि राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा पांच सदस्यीय चयन समिति के अध्यक्ष होंगे। राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी समिति के सचिव होंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पं0 अषोक शर्मा एवं नवनियुक्त हिन्दू न्यायाधीष डॉ0 पूजा शकुन पांडेय समिति के अन्य सदस्य होंगे। उत्तर प्रदेष प्रवक्ता अषोक पांडेय एवं मेरठ जिलाध्यक्ष अभिषेक अग्रवाल प्रवक्ता का कार्य करेंगे। राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा कि विवाह, पारिवारिक विवाद, सम्पत्ति सहित हिन्दुओं के सामान्य विवादों के अतिरिक्त लव जेहाद, गौहत्या एवं धर्मांतरण के विवादां का भी हिन्दू न्यायपीठ निपटारा करेगा। हिन्दुओं के बीच के झगड़े को आपसी सौहार्द व सुलह से निपटाया जायेगा। वहीं हिन्दू न्यायपीठ द्वारा लवजेहादियों, गौ हत्यारों व हिन्दुओं का धर्मांतरण करने वालों को सजा दिलवाने व इस पर कानूनी कार्यवाही करने का कार्य किया जायेगा। जिस प्रकार से भारतीय न्याय प्रणाली द्वारा गरीब व अक्षम लोगों को कानूनी सहायता दी जाती है उसी प्रकार से लव जेहाद व धर्मांतरण से पीड़ित हिन्दुओं को हिन्दू न्यायपीठ सहयोग करेगी तथा वकील की व्यवस्था करायी जायेगी। हिन्दुस्तान के सभी जिलां में हिन्दू न्यायपीठ स्थापित की जायेगी तथा हिन्दू न्यायाधीष नियुक्त किये जायेगें, जिसका चयन ’हिन्दू न्यायपीठ चयन समिति’ करेगा।

मुन्ना कुमार शर्मा
राष्ट्रीय महासचिव
फोनः9312177979

देश के सभी जिलों में हिन्दू न्यायपीठ स्थापित होगा, लोगों का समय व पैसा बचेगा, आपसी सौहार्द्र होगा कायम-हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, 27 अगस्त 2018

हिन्दू न्यायाधीष नियुक्ति आयोग के अध्यक्ष व अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने घोषणा किया है कि देश के सभी जिलों  में हिन्दू न्यायपीठों की स्थापना होगी,जिसमें आपसी विवादों का निपटारा आपसी सहमति के आधार पर त्वरितं गति से होगी। इससे झगड़ों का निपटारा शीघ्र होगा तथा लोगों का पैसा व समय बचेगा। श्री शर्मा ने कहा कि हिन्दू न्यायपीठ हिन्दुओं के बीच सौहार्द्र पैदा करने में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि हिन्दू न्यायपीठ सांप्रदायिकता व जातिवाद को जड़ से समाप्त करने में मुख्य भूमिका का निर्वहन करेगा। उन्होंने कहा है कि अदालतों में मुकदमा वर्षों तक चलता है,जिसमें लोगों का पैसा व समय बर्बाद होता है। हिन्दू न्यायपीठ में विवादों का निपटारा आसानी से हो जायेगा तथा न्याय सबके लिये सुलभ हो जायेगा। विवाह, पारिवारिक कलह, दहेज प्रथा, संपत्ति आदि से संबंधित विवादों का हल हिन्दू न्यायपीठ करेगी।
हिन्दू महासभा महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने केन्द्र की सरकार से पुनः मांग की है कि शरिया अदालतों पर पूर्ण रोक लगायें अन्यथा  हिन्दू न्यायपीठ पूरे देष में स्थापित हो जायेगा। श्री शर्मा ने कहा कि भारतीय कानून, संविधान तथा न्याय प्रणाली में हमारा पूर्ण विष्वास है। हम चाहते हैं कि मुकदमों की सुनवाई केवल भारतीय न्यायालयों में हो। परन्तु यदि शरिया अदालतें चलेंगी तो हिन्दू न्यायपीठ भी चलता रहेगा।

मुन्ना कुमार शर्मा
राष्ट्रीय महासचिव
फोनः9312177979

देश के सभी मदरसों में बच्चों-बच्चियों के यौन शोषण को रोकने तथा सभी मदरसों की जांच कराने की मांग।

प्रतिष्ठा में,
श्री नरेन्द्र मोदी जी
माननीय प्रधानमंत्री,
भारत सरकार।

विषयः-देश के सभी मदरसों में बच्चों-बच्चियों के यौन शोषण को रोकने तथा सभी मदरसों की जांच कराने की मांग।

महोदय,
मीडिया रिपोर्टों के आधार पर आपको ज्ञात हो कि देश के विभिन्न मदरसों में पढने वाले बच्चों व बच्चियों का मदरसा संचालकों व मौलवियों द्वारा यौन शोषण किया जा रहा है। कई मदरसों में यह उजागर हुआ है तथा पुलिस में उत्पीड़न के षिकार बच्चों व उसके परिवार के सदस्यों ने एफआईआर दर्ज करायी है। ऐसी जानकारी मिल रही है कि अधिकांष मदरसों में संचालकों व मौलवियों द्वारा बच्चों-बच्चियों का यौन शोषण किया जा रहा है। मदरसा संचालक व मौलवी गरीब परिवारों के बच्चों को षिकार बना रहा है।
अतः आपसे मांग है कि देश के सभी मदरसों की उच्च-स्तरीय जांच करायी जायें, जहां भी बच्चों का यौन उत्पीड़न या शारीरिक-मानसिक शोषण हो रहा हो, उन मदरसा संचालकों व मौलवियों पर कड़ी कार्रवाई की जाये तथा ऐसे मदरसों को प्रतिबंधित किया जाये।

सादर
भवदीय

(चन्द्रप्रकाष कौषिक) राष्ट्रीय अध्यक्ष
(मुन्ना कुमार शर्मा) राष्ट्रीय महामंत्री

प्रतिलिपि :-
(1) माननीय गृह मंत्री, भारत सरकार।

दिल्ली के हस्तसाल गांव से बायीं ओर नाले के बगल से विकास नगर कॉलोनी को जाने वाली सड़क का नाम ‘स्वातंत्र्य वीर सावरकर रोड़‘ रखने की मांग।

(1) श्री अरविन्द केजरीवाल जी,
माननीय मुख्यमंत्री, दिल्ली।
(2) श्री मनीष सिसौदिया जी,
माननीय उपमुख्यमंत्री, दिल्ली एवं
सड़क नामकरण प्राधिकरण, दिल्ली विधान सभा

विषयःदिल्ली के हस्तसाल गांव से बायीं ओर नाले के बगल से विकास नगर कॉलोनी को जाने वाली सड़क का नाम ‘स्वातंत्र्य वीर सावरकर रोड़‘ रखने की मांग।

महोदय,
दिल्ली के हस्तसाल गांव से बायीं ओर नाले के बगल से विकास नगर कॉलोनी को जाने वाली सड़क का नामकरण अभी तक नहीं हुआ है। हस्तसाल गांव व विकास नगर कॉलोनी के निवासियों की मांग हैं कि इस सड़क का नामकरण भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी स्वातंत्र्य वीर सावरकर के नाम पर रखा जाए।
इसी सडक पर एक ईसाई चर्च स्थित हैं, जिसमें लोभ, लालच व षडयंत्र द्वारा हिन्दुओं का ईसाई धर्म में धर्म परिवर्तन कराने का गैरकानूनी कार्य किया जाता है। ईसाई मिषनरियां धर्मांतरण के कार्यों में तेजी लाने के लिये इस सड़क का नाम ‘चर्च रोड‘ रखना चाहती हैं।
अतःआपसे अनुरोध है कि उपर्युक्त सड़क का नामकरण ‘स्वातंत्र्य वीर सावरकर रोड‘ करने की कृपा करें।
सादर, भवदीय

(चन्द्रप्रकाष कौषिक) (मुन्ना कुमार शर्मा) (वीरेश त्यागी)
राष्ट्रीय अध्यक्ष राष्ट्रीय महासचिव राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री