Monthly Archives: December 2017

श्रीराम जन्मस्थान मुक्ति आंदोलन के बलिदानियों की याद में बलिदानी स्मारक का निर्माण कार्य कल शुरू होगा

नई दिल्ली, 5 दिसम्बर 2017

श्रीराम जन्मस्थान मुक्ति आंदोलन के बलिदानियों की याद में बलिदानी स्मारक का निर्माण कार्य कल शुरू होगा

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने  बताया है कि कल 06 दिसम्बर को प्रातः 11ः00 बजे नई दिल्ली स्थित हिन्दू महासभा भवन में श्रीराम जन्मस्थान मुक्ति आंदोलन के बलिदानियों की याद में बलिदानी स्मारक का निर्माण कार्य शुरू होगा। अखिल भारत हिन्दू महासभा द्वारा अपने मुख्यालय हिन्दू महासभा भवन में श्रीरामजन्मस्थान की मुक्ति के लिये शहीद हुए लगभग पांच लाख बलिदानियों की याद में एक भव्य स्मारक का निर्माण किया जायेगा। स्मारक स्थल पर अयोध्या से लाई गई श्रीराम ज्योति 24 घंटे जलती रहेगी तथा 24 घंटे श्रीराम नाम का जाप चलता रहेगा। यह स्मारक बलिदानियों को श्रद्धासुमन अर्पित करने के उदेष्य से किया गया है, जहां आकर देष-विदेष के हिन्दू स्मारक पर पुष्प चढ़ा सकेंगे। निर्माण कार्य की तैयारियों के लिये आज हिन्दू महासभा भवन में अखिल भारत हिन्दू महासभा के पदाधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा, राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी, दिल्ली प्रदेषाध्यक्ष सुनील कुमार आदि नेता उपस्थित थे। बलिदानी स्मारक का निर्माण कार्य प्रारंभ होने के अवसर पर कल प्रातः 11ः00 बजे एक भव्य समारोह का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें कई साधु-संत, धार्मिक नेता व विभिन्न धार्मिक व सामाजिक संगठनों के प्रमुख प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे।

(वीरेष त्यागी)
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

यदि कश्मीरी पत्थरबाजों के मुकदमे वापस हो सकते, तो सिरसा के रामरहीम समथकों के मुकदमे वापस क्यों नहीं करती सरकारः अखिल भारत हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, 30 नवम्बर 2017

यदि कश्मीरी पत्थरबाजों के मुकदमे वापस हो सकते, तो सिरसा के रामरहीम समथकों के मुकदमे वापस क्यों नहीं करती सरकारः अखिल भारत हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने कश्मीरी पत्थरबाजों के मुकदमें वापस लेने के केन्द्र सरकार व जम्मू-कश्मीर सरकार के फैसले का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि यदि भारतविरोधी आतंकी समूहों के इषारे पर भारतीय सेना व पुलिस पर पत्थर बरसानेवाले कश्मीरीयों के मुकदमे वापस हो सकते हैं, तो बाबा रामरहीम की रिहाई की मांग कर रहे सिरसा में जुटे उनके समर्थकों के मुकदमें वापस क्यों नहीं हो सकते हैं। कष्मीर युवाओं द्वारा पत्थरबाजी देष को तोड़ने के लिये थी, जबकि राम रहीम समर्थकों द्वारा पत्थरबाजी केवल गुरू राम रहीम की रिहाई के लिये थी। कष्मीरी पत्थरबाजों पर दर्ज मुकदमें वापस लेने से भारत विरोधी आंतकियों का मनोबल बढ़ेगा तथा कश्मीर में आंतकवाद को बढ़ावा मिलेगा। श्री शर्मा ने केन्द्र की राजग सरकार व हरियाणा की भाजपा सरकार से सिरसा में राम रहीम की रिहाई की मांग कर रहे उनके समर्थकों के मुकदमें वापस लेने की मांग की है। राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने आरोप लगाया है कि केन्द्र की भाजपा सरकार मुस्लिम तुष्टीकरण की पराकाष्ठा को पार कर गई है। उन्होंने कहा है कि सरकार हिन्दुओं के साथ भेदभाव कर रही है। यदि हिन्दुओं के साथ भेदभाव जारी रहा तो अखिल भारत हिन्दू महासभा केन्द्र सरकार के विरूद्ध राष्ट्रव्यापी जनांदोलन करेगी।

(वीरेष त्यागी)

राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री