Daily Archives: January 4, 2018

भीमा कोरेगांव युद्ध की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम के आयोजकों व गुजरात से विधायक जिग्नेष मेवानी एवं राष्ट्रद्रोही उमर खालिद पर कड़ी कार्रवाई करने के संबंध में।

प्रतिष्ठा में,

श्री देवेन्द्र फडनवीस जी,
माननीय मुख्य मंत्री, महाराष्ट्र।

विषय :- भीमा कोरेगांव युद्ध की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम के आयोजकों व गुजरात से विधायक जिग्नेष मेवानी एवं राष्ट्रद्रोही उमर खालिद पर कड़ी कार्रवाई करने के संबंध में।

महोदय,

पुणे के पास स्थित भीमा कोरेगांव युद्ध स्मारक स्थल पर युद्ध की 200 वीं वर्षगांठ मनाने के लिये आयोजित कार्यक्रम सामाजिक विघटन पैदा करने व जातीय हिंसा फैलाने के उद्देष्य से आयोजित की गई थी। आयोजकों व भीड़ को उकसाने वाले पर कड़ी कार्रवाई की जाये। इन लोगों पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा किया जाये, क्योंकि इस आयोजन से एवं जिग्नेष मेवानी, देषद्रोही उमर खलिद सहित वक्ताओं के भड़काऊ तथा जातीय विद्वेष पैदा करने वाले भाषणों से हिंसा भड़क गई थी। ब्रिटिष सेना की जीत पर खुषी मनाने के लिये आयोजित इस कार्यक्रम का पूर्व नियोजित उद्देष्य जातीय हिंसा फैलाना था। जातीय हिंसा फैलाकर राष्ट्रविरोधी शक्तियां व कुछ राजनीतिक दलों के नेता देष को कमजोर करने का प्रयास कर रहे हैं।
01 जनवरी 1818 को ईस्ट इंडिया कंपनी तथा मराठों की सेना में युद्ध हुआ था, जिसमें ब्रिटिष सेना युद्ध नहीं जीत पायी थी। ब्रिटिष अधिकारियों ने षड्यंत्र के तहत इसे जातीय रंग दिया था, जिसे आज के कुछ भारत विरोधी तत्व भड़काने में लगे हैं। जबकि सत्यता है कि मराठा सेना में बड़ी संख्या में दलित जाति के सैनिक विद्यमान थे। कई सेनापति भी दलित थे, ऐसे में इस युद्ध का ब्रिटिष जीत के रूप में मनाना राष्ट्रविरोधी कदम है।
आपसे अनुरोध है कि भीमा कोरेगांव युद्ध की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम के आयोजकों तथा गुजरात से विधायक जिग्नेष मेवानी, देषद्रोही उमर खालिद सहित भड़काऊ भाषण देने वाले सभी वक्ताओं पर मकोका के तहत मुकदमा दर्ज किया जाये तथा सभी दोषियों की तुरन्त गिरफ्तारी की जाये।

सादर,
भवदीय

(चन्द्रप्रकाष कौषिक) राष्ट्रीय अध्यक्ष
(मुन्ना कुमार शर्मा) राष्ट्रीय महासचिव
(वीरेश त्यागी) राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

भीमा कोरेगांव युद्ध की स्मृति में अयोजित कार्यक्रम के आयोजकों व गुजरात से विधायक जिग्नेष मेवानी पर कड़ी कार्रवाई होः हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, 02 जनवरी 2018

भीमा कोरेगांव युद्ध की स्मृति में अयोजित कार्यक्रम के आयोजकों व गुजरात से विधायक जिग्नेष मेवानी पर कड़ी कार्रवाई होः हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक एवं राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने पुणे के पास स्थित भीमा कोरेगांव युद्ध स्मारक स्थल पर युद्ध की 200 वीं वर्षगांठ मनाने के लिये आयोजकों की निन्दा की है तथा मांग की है कि आयोजकों व भीड़ को उकसाने वाले पर कड़ी कार्रवाई की जाये। उन्होंने मांग की है कि इन लोगों पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा किया जाये, क्योंकि इस आयोजन से एवं जिग्नेष मेवानी सहित वक्ताओं के भड़काऊ तथा जातीय विद्वेष पैदा करने वाले भाषणों से हिंसा भड़क गई थी। उन्होंने कहा कि ब्रिटिष सेना की जीत पर खुषी मनाने के लिये आयोजित इस कार्यक्रम का पूर्व नियोजित उद्देष्य जातीय हिंसा फैलाना था। जातीय हिंसा फैलाकर राष्ट्रविरोधी शक्तियां व कुछ राजनीतिक दल देष को कमजोर करने का प्रयास कर रहे हैं।

हिन्दू महासभा महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा कि 01 जनवरी 1818 को ईस्ट इंडिया कंपनी तथा मराठों की सेना में युद्ध हुआ था, जिसमें ब्रिटिष सेना युद्ध नहीं जीत पायी थी। ब्रिटिष अधिकारियों ने षड्यंत्र के तहत इसे जातीय रंग दिया था, जिसे आज के कुछ भारत विरोधी तत्व भड़काने में लगे हैं। जबकि सत्यता है कि मराठा सेना में बड़ी संख्या में दलित जाति के सैनिक विद्यमान थे। कई सेनापति भी दलित थे, ऐसे में इस युद्ध का ब्रिटिष जीत के रूप में मनाना राष्ट्रविरोधी कदम है।

मुन्ना कुमार शर्मा
राष्ट्रीय महासचिव
मो. न0-9312177979