Daily Archives: January 31, 2018

बरेली के जिलाधिकारी कैप्टन राघवेन्द्र विक्रम सिंह को बर्खास्त किया जाये, पाकिस्तान विरोधी नारे लगाने वाले युवकों को पुरस्कृत किया जाना चाहिए-हिन्दू महासभा

नई दिल्ली 30 जनवरी 2018,

बरेली के जिलाधिकारी कैप्टन राघवेन्द्र विक्रम सिंह को बर्खास्त किया जाये, पाकिस्तान विरोधी नारे लगाने वाले युवकों को पुरस्कृत किया जाना चाहिए-हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने एक संयुक्त वक्तव्य जारी करते हुए उत्तरप्रदेष के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बरेली के जिलाधिकारी कैप्टन राघवेन्द्र विक्रम सिंह को तुरन्त बर्खास्त करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि प्रषासनिक अधिकारियों को प्रषासनिक कार्यां का पालन इमानदारी से करनी चाहिए तथा इस बात का भी ध्यान रखना आवष्यक है कि उनके कार्यों तथा वक्वव्यों से अव्यवस्था न फैले। परन्तु कैप्टन राघवेन्द्र ने सभी मर्यादाओं को ताक पर रखते हुए ऐसा फेसबुक पोस्ट किया है जिससे भारतीय एकता को खतरा पहुंचा है। कैप्टन राघवेन्द्र ने राष्ट्रविरोधी पोस्ट किया है। उन पर मुकदमा दर्ज होना चाहिए। यदि भारत के नागरिक हिन्दुस्तान में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे नहीं लगा सकते तो क्या पाकिस्तान जाकर लगायेंगे? क्या मुस्लिम मुहल्लों में पाकिस्तान मुर्दाबाद का नारा लगाना राष्ट्रविरोधी है? क्या कैप्टन राघवेन्द्र ने अपने पोस्ट से मुसलमानों को राष्ट्रविरोधी सिद्ध नहीं किया है? हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि पाकिस्तान हमारे देष का दुष्मन राष्ट्र है। वह भारत में आंतकवाद को बढ़ावा दे रहा है तथा भारत विरोधी आंतकियों की मदद कर रहा है। यहां तक कि पाकिस्तान ने अपने देष में आतंकी प्रषिक्षण षिविर भी चला रखा है। ऐसे में पाकिस्तान विरोधी नारे लगाना राष्ट्रवादी कदम है। हमें पाकिस्तान विरोधी नारे लगाने वाले युवकों पुरस्कृत किया जाना चाहिए।

(वीरेश त्यागी)
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

कासगंज दंगे में मारे गये चंदन गुप्ता को शहीद का दर्ज देने, परिवार के सदस्यों को पांच करोड़ की आर्थिक सहायता करने व मुख्य आरोपी शकील सहित दंग दंगाईयों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग।

प्रतिष्ठा में,
योगी आदित्यनाथ जी महाराज,
माननीय मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश
लाल बहादुर शास्त्री भवन, लखनऊ
उत्तर प्रदेश

विषयः-कासगंज दंगे में मारे गये चंदन गुप्ता को शहीद का दर्ज देने, परिवार के सदस्यों को पांच करोड़ की आर्थिक सहायता करने व मुख्य आरोपी शकील सहित दंग दंगाईयों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग।

महोदय,

उत्तरप्रदेश के कासगंज में गणतंत्र दिवस के दिन फैले दंगे में मारे गये हिन्दू शेर चंदन गुप्ता की हत्या का संज्ञान लेने की कृपा करें। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा आयोजित तिंरगा यात्रा के दौरान दंगाइयों के हमले में मारे गये चंदन गुप्ता की हत्या के मुख्य आरोपी शकील सहित प्रमुख दोषियों की अभी तक भी गिरफ्तारी नहीं हुई है। न ही चंदन गुप्ता के परिवार को आर्थिक सहयोग दिया गया है। 20 लाख रूपये मुआवजा देने की घोषणा एक शहीद परिवार के लिये कम है। कासगंज की घटना से यह प्रमाणित होता है कि उत्तरप्रदेष में मुस्लिम कट्टरपंथियों व दंगाईयों का मनोबल बढ़ा हुआ हैं। ऐसे दंगाईयों व कट्टरंपथियों पर कड़ी कार्रवाई की आवष्यकता है।
अतः आपसे मांग है कि मृतक चंदन गुप्ता को शहीद का दर्जा दिया जाये, मृतक के परिवार को पांच करोड़ की आर्थिक सहायता की जाये तथा मुख्य आरोपी शकील सहित दंगाईयों पर कड़ी कार्रवाई की जाये।

सादर,
भवदीय

(मुन्ना कुमार शर्मा) राष्ट्रीय महासचिव
(वीरेश त्यागी) राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री