Daily Archives: September 4, 2018

हिन्दू महासभा ने पांच सदस्यीय ’हिन्दू न्यायपीठ चयन समिति’ का किया गठन, दो प्रवक्ता भी किये गये नियुक्त

नई दिल्ली, 30 अगस्त 2018

आज नई दिल्ली स्थित हिन्दू महासभा भवन में अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक हुई। बैठक में पांच सदस्यीय ’हिन्दू न्यायपीठ चयन समिति’ का गठन किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाष कौषिक ने बताया कि राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा पांच सदस्यीय चयन समिति के अध्यक्ष होंगे। राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी समिति के सचिव होंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पं0 अषोक शर्मा एवं नवनियुक्त हिन्दू न्यायाधीष डॉ0 पूजा शकुन पांडेय समिति के अन्य सदस्य होंगे। उत्तर प्रदेष प्रवक्ता अषोक पांडेय एवं मेरठ जिलाध्यक्ष अभिषेक अग्रवाल प्रवक्ता का कार्य करेंगे। राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा कि विवाह, पारिवारिक विवाद, सम्पत्ति सहित हिन्दुओं के सामान्य विवादों के अतिरिक्त लव जेहाद, गौहत्या एवं धर्मांतरण के विवादां का भी हिन्दू न्यायपीठ निपटारा करेगा। हिन्दुओं के बीच के झगड़े को आपसी सौहार्द व सुलह से निपटाया जायेगा। वहीं हिन्दू न्यायपीठ द्वारा लवजेहादियों, गौ हत्यारों व हिन्दुओं का धर्मांतरण करने वालों को सजा दिलवाने व इस पर कानूनी कार्यवाही करने का कार्य किया जायेगा। जिस प्रकार से भारतीय न्याय प्रणाली द्वारा गरीब व अक्षम लोगों को कानूनी सहायता दी जाती है उसी प्रकार से लव जेहाद व धर्मांतरण से पीड़ित हिन्दुओं को हिन्दू न्यायपीठ सहयोग करेगी तथा वकील की व्यवस्था करायी जायेगी। हिन्दुस्तान के सभी जिलां में हिन्दू न्यायपीठ स्थापित की जायेगी तथा हिन्दू न्यायाधीष नियुक्त किये जायेगें, जिसका चयन ’हिन्दू न्यायपीठ चयन समिति’ करेगा।

मुन्ना कुमार शर्मा
राष्ट्रीय महासचिव
फोनः9312177979

देश के सभी जिलों में हिन्दू न्यायपीठ स्थापित होगा, लोगों का समय व पैसा बचेगा, आपसी सौहार्द्र होगा कायम-हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, 27 अगस्त 2018

हिन्दू न्यायाधीष नियुक्ति आयोग के अध्यक्ष व अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने घोषणा किया है कि देश के सभी जिलों  में हिन्दू न्यायपीठों की स्थापना होगी,जिसमें आपसी विवादों का निपटारा आपसी सहमति के आधार पर त्वरितं गति से होगी। इससे झगड़ों का निपटारा शीघ्र होगा तथा लोगों का पैसा व समय बचेगा। श्री शर्मा ने कहा कि हिन्दू न्यायपीठ हिन्दुओं के बीच सौहार्द्र पैदा करने में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि हिन्दू न्यायपीठ सांप्रदायिकता व जातिवाद को जड़ से समाप्त करने में मुख्य भूमिका का निर्वहन करेगा। उन्होंने कहा है कि अदालतों में मुकदमा वर्षों तक चलता है,जिसमें लोगों का पैसा व समय बर्बाद होता है। हिन्दू न्यायपीठ में विवादों का निपटारा आसानी से हो जायेगा तथा न्याय सबके लिये सुलभ हो जायेगा। विवाह, पारिवारिक कलह, दहेज प्रथा, संपत्ति आदि से संबंधित विवादों का हल हिन्दू न्यायपीठ करेगी।
हिन्दू महासभा महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने केन्द्र की सरकार से पुनः मांग की है कि शरिया अदालतों पर पूर्ण रोक लगायें अन्यथा  हिन्दू न्यायपीठ पूरे देष में स्थापित हो जायेगा। श्री शर्मा ने कहा कि भारतीय कानून, संविधान तथा न्याय प्रणाली में हमारा पूर्ण विष्वास है। हम चाहते हैं कि मुकदमों की सुनवाई केवल भारतीय न्यायालयों में हो। परन्तु यदि शरिया अदालतें चलेंगी तो हिन्दू न्यायपीठ भी चलता रहेगा।

मुन्ना कुमार शर्मा
राष्ट्रीय महासचिव
फोनः9312177979