Monthly Archives: December 2018

अंग्रेजी नववर्ष के बहिष्कार का हिन्दू महासभा ने किया आहवान

नई दिल्ली,24 दिसम्बर 2018

अंग्रेजी नववर्ष के बहिष्कार का हिन्दू महासभा ने किया आहवान

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने देषवासियों से अंग्रेजी नववर्ष के बहिष्कार का आहवान किया है। उन्होंने कहा है कि एक जनवरी अंग्रेजों का नववर्ष है, इसलिये भारतीयों को इसे नहीं मनाना चाहिए। अंग्रेजी नववर्ष का प्रचार-प्रसार भारतीय संस्कृति को नष्ट करनेवाला है। 25 दिसंबर से लेकर एक जनवरी तक शराब व नषा का प्रयोग अत्यधिक बढ़ जाता है, जिससे कारण इसका कुप्रभाव भारतीय युवाओं पर पड़ रहा है। 31 दिसंबर की रात महिलाओं से छेड़खानी एवं अपराध बढ़ जाता है। इसे रोकने के लिये पुलिस को कड़ी मराक्कत करनी पड़ती हैं। इसलिये अपराध और अपसंस्कृति को बढ़ावा देने के जिम्मेबार अंग्रेजी नववर्ष का बहिष्कार करना चाहिए। 31 दिसंबर को बम-पटाखों का प्रयोग भी बहुत होता है, जिसके कारण प्रदूषण का स्तर काफी बढ़ जाता है। हिन्दू महासभा नेताओं ने भारतीय गृहमंत्री से मांग की है कि ठंड़ के कारण बढ़ते प्रदूषण को और नहीं बढ़ने देने के लिये बम-पटाखों के प्रयोग पर कड़ी कारवाई की जाये। उन्होंने कहा कि पटाखों का 31 दिसंबर की परंपरा से कोई संबंध नहीं है। यह अंग्रेजी संस्कृति से जुड़ा भी नहीं है। इसलिये पटाखों के प्रयोग पर पाबंदी लगा दी जाये।

( वीरेष त्यागी )
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

मेघालय हाईकोर्ट न्यायाधीष के भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की वकालत का हिन्दू महासभा ने किया समर्थन, केन्द्र सरकार से कानून बनाने की मांग

नई दिल्ली, 14 दिसम्बर 2018

मेघालय हाईकोर्ट न्यायाधीष के भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की वकालत का हिन्दू महासभा ने किया समर्थन, केन्द्र सरकार से कानून बनाने की मांग

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने मेघालय हाईकोर्ट के न्यायाधीष न्यायामूर्ति एस.आर.सेन द्वारा भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की वकालत का पूर्ण समर्थन किया है तथा केन्द्र की राज्य सरकार से भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने के लिये संसद में शीघ्र कानून बनाने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि न्यायामूर्ति एस.आर.सेन की यह बात सौ प्रतिषत सही है कि यदि भारत इस्लामिक देष बना तो यह भारत और पूरी दुनिया के लिये कयामत होगा। हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि धर्मांतरण एवं लव जेहाद के द्वारा बड़े पैमाने पर हिन्दू लड़कियों का विवाह मुस्लिम युवकों से कराकर हिन्दू लड़कियों को बच्चे पैदा करने की मषीन बना दी जाती है। हर मुस्लिमों के कम-से कम 10-15 बच्चे होते हैं। इससे मुस्लिमों की जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है। और हिन्दुओं का अनुपात घटता जा रहा है। हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि जिस दिन भारत में मुस्लिम आबादी हिन्दुओं से अधिक हो जायेगी, उसी दिन भारत इस्लामिक देष बन जायेगा। हिन्दू महासभा नेताओं ने संसद में कानून बनाकर भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने, जनसंख्या नियंत्रण के लिये समान आचार संहिता लागू करने तथा एक विवाह और केवल दो बच्चे का कानून  बनाने की मांग की है। उन्होनें कहा कि कानून ऐसा हो, जिसमें दो से अधिक बच्चे पैदा करने वाले का मताधिकार समाप्त कर दिया जाये।

( वीरेष त्यागी )
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री