Category Archives: Press Release

हिन्दू महासभा ने किया वैलेंटाइन डे का विरोध, प्रेमी युगलों की होगी शादी

नई दिल्ली, 13 फरवरी 2019

हिन्दू महासभा ने किया वैलेंटाइन डे का विरोध, प्रेमी युगलों की होगी शादी

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने वैलेंटाइन डे का विरोध किया है। उन्होंने कहा है कि वैलेंटाइन डे भारतीय संस्कृति के विरूद्व है तथा भारतीय युवतियों की जिंदगी बर्बाद करनेवाला है। इस डे का फायदा उठाकर धोखेबाज प्रेमयों द्वारा भारतीय युवतियों की जिंदगी बर्बाद की जाती है तथा युवतियों का अपमान किया जाता है। यह पाष्चात्य संस्कृति है, जिसे भारत पर थोप दिया गया है। पष्चिमी सभ्यता के द्वारा भारतीय प्राचीन परंपरा विवाह को नस्तनाबूद करने के लिये इसे वैलेंटाइन डे नाम से मनाया जाता है, जिसे पष्चिमी देष अब नहीं मनाते हैं।
राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने घोषणा किया है कि वैलेंटाइन डे के दिन प्रेमी युगलों का हिन्दू महासभा द्वारा विवाह कराया जायेगा। इसके लिये नई दिल्ली, मंदिर मार्ग स्थित हिन्दू महासभा कार्यालय में विवाह मंडप बनाया गया है। अखिल भारत हिन्दू महासभा के कार्यकर्ता पार्कों एवं सार्वजनिक स्थानों में उपिस्थत प्रेमी युगलों की काउंसिलिंग करेंगे तथा उसे हिन्दू महासभा कार्यालय लाकर विवाह के बंधन में बांधा जायेगा। इस कार्य को संपन्न कराने हेतु कई पुरोहितों की व्यवस्था करायी गई है।

मुन्ना कुमार शर्मा
राष्ट्रीय महासचिव
फोनः9312177979

हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति ने लोकसभा चुनाव 2019 में कम-से-कम सौ सीटां पर अपना प्रत्याषी लड़ाने का निर्णय लिया।

नई दिल्ली,13 फरवरी 2019

हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति ने लोकसभा चुनाव 2019 में कम-से-कम सौ सीटां पर अपना प्रत्याषी लड़ाने का निर्णय लिया।

आज अखिल भारत हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की पार्टी मुख्यालय हिन्दू महासभा भवन में आयोजित बैठक में देष के विभिन्न राज्यों से आये हुए प्रतिनिधियों ने लोकसभा चुनाव 2019 में मजबूती से लड़ने का निर्णय लिया है। बैठक की अध्यक्षता राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक ने किया तथा संचालन राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने किया। प्रतिनिधियों का स्वागत राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने किया। बैठक में दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, गुजरात, मध्यप्रदेष, उत्तर प्रदेष, बिहार, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, महाराष्ट्र आदि राज्यों से सैकड़ों प्रतिनिधि सम्मिलित हुए। प्रतिनिधियों ने देष भर में कम-से-कम एक सौ हिन्दू महासभा प्रत्याषी लड़ाने का निर्णय लिया है। सर्वसम्मति से निर्णय हुआ कि अयोध्या, काषी एवं मथुरा में मंदिर निर्माण, देष में एक समान नागरिक कानून बनाने, संविधान की घारा-370 को समाप्त करने एवं गौहत्या पर प्रतिबंध लगाने के लिये कठोर केन्द्रीय कानून बनाने, युवाओं को रोजगार देने, किसानां की समस्याओं का समाधान करने आदि मुद्दों पर अखिल भारत हिन्दू महासभा देष की जनता के बीच जायेगी एवं कांग्रेस, भाजपा, सपा, बसपा, राजद, डीएमके, एआईएडीएमके, बीजू जनतादल, तृणमूल कांग्रेस आदि दलों की वादाखिलाफी के विरूद्व आवाज उठायेगी। बैठक में दिल्ली प्रदेषाध्यक्ष सुनील कुमार, उत्तर प्रदेष के प्रदेषाध्यक्ष योगेन्द्र वर्मा, मध्य प्रदेष के प्रदेष संयोजक मोहनलाल वर्मा, महाराष्ट्र प्रदेषाध्यक्ष अनिल पवार, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बसंत राव पाटील, अभय सिंह कुलकर्णी, राघव मिश्र, राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रमोद पंड़ित जोषी, मोहन कोरेमोरे, प्रवीन अत्री, जनार्दन दूबे,गौरव मेहरोत्रा, सुभाष पांडेय आदि ने अपने विचार रखे।
वीरेष त्यागी
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

बालवीर हकीकतराय बलिदान दिवस समारोह – 2019 के अवसर पर बाल प्रतिभा खोजप्रतियोगिता का भव्य आयोजन

IMG_8646IMG_8635नई दिल्ली, 10 फरवरी 2019,

बालवीर हकीकतराय बलिदान दिवस समारोह के अवसर पर बाल प्रतिभा खोजप्रतियोगिता का भव्य आयोजन

आज अखिल भारत हिन्दू महासभा, दिल्ली प्रदेश के तत्वावधान में पार्टी मुख्यालय हिन्दू महासभा भवन, मंदिर मार्ग, नई दिल्ली में हिन्दू धर्म की रक्षा के लिये बलिदान होने वाले बालवीर हकीकत राय का बलिदान दिवस समारोह पूरी भव्यता के साथ आयोजित किया गया। सर्वप्रथम मां सरस्वती की पूजा की गई एवं हिन्दू महासभा भवन स्थित बालवीर हकीकत राय, स्वातंत्रय वीर सावरकर एवं भाई परमानन्द की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया तथा श्रद्धासुमन अर्पित किया गया। तत्पश्चात बालवीर हकीकत राय बलिदान दिवस समारोह की शुरूआत हुई। अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाश कौशिक व राष्ट्रीय महांमत्रा मुन्ना कुमार शर्मा ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का शुभारंभ किया। मंच संचालन राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने किया। दिल्ली प्रदेशाध्यक्ष सुनील कुमार ने गुलदस्ता भेंटकर समारोह की अध्यक्षता कर रहे हिन्दू महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाश कौशिक व समारोह के विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा का स्वागत किया। हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाश कौशिक ने सभी उपस्थित जनों को समारोह की शुभकामनाएं दीं तथा कहा कि हमें बालवीर हकीकत राय के त्याग, बलिदान व साहस से प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने प्राण त्याग दिये, परन्तु हिन्दू धर्म का त्याग करना स्वीकार नहीं किया। समारोह को संबोधित करते हुए हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा कि वीर हकीकत राय ने त्याग व बलिदान के माध्यम से राष्ट्र एवं हिन्दू समाज के सामने एक आदर्श, प्रस्तुत किया है। उन्होंने हमें सिखाया है कि हमें हिन्दुत्व के मार्ग से कभी भी अलग नहीं होना चहिए। उनका मानना था कि हिन्दू धर्म दुनिया का सर्वश्रेष्ठ धर्म है, हमें अपने धर्म पर गर्व करना चाहिए। उन्होंने हिन्दुस्तान के निवासियों का आह्वान किया कि हमें अखंड हिन्दू राष्ट्र का निर्माण करना है तथा हिन्दू, हिन्दी, हिन्दुस्तान का विकास करना है। अखिल भारत हिन्दू महासभा वीर हकीकत राय के अधूरे सपनों को पूरा करने के लिये दृढ़संकल्य है। राष्ट्रीय कार्यालय मंत्रा वीरेश त्यागी ने सभी अतिथियों व उपस्थितजनों का धन्यवाद ज्ञापन किया। उन्होंने कहा कि हम हिन्दू रक्षा व राष्ट्र रक्षा का संकल्प लें। बाल प्रतिभा खोज प्रतियोगिता में दिल्ली-एनसीआर के एक दर्जन विद्यालयों के बच्चे सम्मिलित हुए। बच्चों ने गायन, वादन, नृत्य आदि के माध्यम से कला का प्रदर्शन किया। उल्लेखनीय प्रदर्शन करने वाले बच्चों को मेडल देकर पुरस्कृत किया गया।

(वीरेश त्यागी)
प्रदेश महामंत्री दिल्ली प्रदेश

सुप्रीम कोर्ट में केन्द्र सरकार की याचिका टालू एवं दुर्भाग्यपूर्ण – हिन्दू महासभा

नई दिल्ली,29 जनवरी 2019

सुप्रीम कोर्ट में केन्द्र सरकार की याचिका टालू एवं दुर्भाग्यपूर्ण-हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा है कि केन्द्र सरकार द्वारा उच्चतम न्यायालय में दाखिल की गई याचिका दुर्भाग्यपूर्ण एवं पूर्णतः टालू रवैया है। यह एक राजनीतिक निर्णय है जिसके द्वारा भाजपा इस मुददे को केवल वोट बैंक की राजनीति के लिये आगामी लोकसभा चुनाव में इस्तेमाल करना चाहती है। केन्द्र की भाजपा सरकार की इस प्रकार की टालू रवैया देष के सौ करोड़ हिन्दुओं के साथ विष्वासघात है। हमें उम्मीद थी कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार विधेयक लाकर या अध्यादेष लाकर भगवान राम के जन्म स्थान पर राम मंदिर बनाने का मार्ग प्रषस्त करेगी। 2014 के चुनाव से पूर्व नरेन्द्र मोदी ने पूरे देष में घूमकर यह वादा किया था कि जन्मस्थान पर राम मंदिर बनायेंगे। परन्तु गर्भगृह (जन्मस्थान) को छोड़कर बाकी भूमि से यथास्थिति हटाने के लिये याचिका दाखिल कर भाजपा ने देष की जनता से वादाखिलाफी किया है। देष की जनता उन्हें कभी भी माफ नही करेगी तथा आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा को सबक सिखायेगी।

(मुन्ना कुमार शर्मा)
राष्ट्रीय महामंत्री
फोनः9312177979

मस्जिदों के इमामों को दी जा रही मासिक वेतन बंद करने अथवा हिन्दू मंदिरों मे पुजारियों को भी मासिक वेतन देने की मांग।

श्री अरविन्द केजरीवाल जी,
आदरणीय मुख्यमंत्री, दिल्ली सरकार।

विषयः-मस्जिदों के इमामों को दी जा रही मासिक वेतन बंद करने अथवा हिन्दू मंदिरों मे पुजारियों को भी मासिक वेतन देने की मांग।

महोदय,
आपको ज्ञात हो कि दिल्ली सरकार के अधीनस्थ कार्यरत मुस्लिम बक्फ बोर्ड द्वारा मस्जिदों के इमामों को दस हजार रूपये मासिक वेतन दिया जा रहा था, जिसे अब बढ़ाकर अठारह हजार रूपये मासिक कर दिया गया है। परन्तु हिन्दू मंदिरो के पुजारियों को एक पैसा भी आर्थिक सहयोग दिल्ली सरकार द्वारा नहीं दी जा रही है। यह बहुसंख्यक हिन्दुओं के साथ नाइंसाफी है। इसके साथ ही दिल्ली सरकार के इस प्रकार के निर्णयों से ऐसा लगता है कि दिल्ली में इस्लामिक सरकार कार्य कर रही है। एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र में समुदाय के आधार पर असमानता संविधान एवं कानून का उल्लंघन है।
आपसे अनुरोध है कि या तो मस्जिदों के इमामों को वेतन देना बंद कर दें अथवा हिन्दू पुजारियों को भी समान मासिक वेतन देना प्रांरभ करें।

सादर,

भवदीय

(चन्द्रप्रकाष कौषिक) राष्ट्रीय अध्यक्ष

(मुन्ना कुमार शर्मा) राष्ट्रीय महासचिव

राम मंदिर मुकदमे की सुनवाई की तारीख टलने से हिन्दू महासभा नेता नाराज, वीर सावरकर को भारत रत्न नहीं देने का विरोध

नई दिल्ली,28 जनवरी 2019

राम मंदिर मुकदमे की सुनवाई की तारीख टलने से   हिन्दू महासभा नेता नाराज, वीर सावरकर को भारत रत्न नहीं देने का विरोध

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक एवं राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या स्थित श्रीराम जन्मभूमि मुकदमे की सुनवाई की तारीख टाले जाने पर नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि मर्यादा पुरूषोतम श्रीराम के जन्मस्थान पर मंदिर बनाने का रास्ता रोकना देष के हिन्दुओं को स्वीकार्य नहीं है। लगातार बाद्या उत्पन्न किये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा कि यह देष की जनता का अपमान है। इसे किसी भी कीमत पर बर्दास्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि यदि देष के बहुसंख्यक हिन्दुओं ने ठान लिया तो वह स्वंय राम मंदिर का निर्माण कर देगी। उन्होंने केन्द्र सरकार व न्यायपालिका से मांग की है कि दिन-प्रतिदिन सुनवाई कर जन्मस्थान पर राम मंदिर बनाने का मार्ग शीघ्र प्रषस्त किया जाये।
वहीं अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक एवं राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने अद्वितीय स्वंतत्रता सेनानी व हिन्दू राष्ट्र के प्रणेता वीर सावरकर को भारत रत्न न देने का तीव्र विरोध किया है। उन्होंने कहा है कि वीर सावरकर एक अद्वितीय स्वतंत्रता सेनानी, क्रंातिकारियों के प्ररेणाश्रोत, विदेषी धरती पर पहली बार स्वतंत्रता आंदोलन का श्रीगणेष करने वाले एक महान विचारक व लेखक थे। उन्हंे भारत रत्न न देकर केन्द्र की भाजपा सरकार ने देष के स्वतंत्रता सेनानियों व क्रंातिकारियों का अपमान किया है।

(मुन्ना कुमार शर्मा)
राष्ट्रीय महामंत्री
फोनः9312177979

राम मंदिर मुकदमे की सुनवाई में अड़ंगा लगाने की हिन्दू महासभा ने की आलोचना।

नई दिल्ली,10 जनवरी 2019

राम मंदिर मुकदमे की सुनवाई में अड़ंगा लगाने की हिन्दू महासभा ने की आलोचना।

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक एवं राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा ने उच्चमत न्यायालय में अयोध्या स्थित श्री रामजन्मस्थान मुकदमे की सुनवाई में सुन्नी बक्फ बोर्ड एवं कांग्रेस पार्टी के वकील राजीव धवन द्वारा बार-बार अडं़गे लगाने की तीव्र आलोचना की है। हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि कभी अनुवाद के नाम पर, कभी संविधान पीठ के नाम पर और कभी किसी न्यायमूर्ति पर बेबुनियाद आरोप लगाकर सुनवाई की तारीख बार-बार आगे बढ़वाकर राजीव धवन देष के 100 करोड़ हिन्दुओं की भावनाआें के साथ खिलवाड़ कर रहें हैं। मर्यादा पुरूषोत्तम राम हिन्दुओं एवं हिन्दू राष्ट्र भारत की पहचान व प्ररेणाश्रोत हैं। वे भारतीय संस्कृति के प्रतीक हैं। उनके जन्मस्थान पर मंदिर बनाने में बाधा डालकर कांग्रेस पार्टी व सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील हिन्दुओं के साथ विष्वासघात कर रहे हैं। राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता पं0 प्रमोद जोषी ने कहा है कि विदेषी यात्रियों के ग्रथों, विवादित ढं़ाचे के उत्खनन से प्राप्त अवषेषों, तुलसीदास कृत दोहा शतक, 1936 में वक्फ के विधान में राम मंदिर को वक्फ संपति नहीं बनना, 1941 में फैजाबाद नजूल विभाग द्वारा श्रीराम जन्मभूमि मंदिर परिसर, रामकोट अयोध्या 67.77 एकड़ भूमि क्र. 583 में पंजीकृत करने, षिया या सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा विवादित  भूमि के रख रखाव में कोई रूचि नहीं लेने तथा 19 जून 1949 को इस भूमि का ट्रस्ट श्रीपंचरामानंदीय निर्मोही अखाड़ा द्वारा पंजीकृत कराने आदि प्रमाणां से साबित होता है कि यह स्थान श्रीराम जन्म स्थान ही है।

(मुन्ना कुमार शर्मा)
राष्ट्रीय महामंत्री

अंग्रेजी नववर्ष के बहिष्कार का हिन्दू महासभा ने किया आहवान

नई दिल्ली,24 दिसम्बर 2018

अंग्रेजी नववर्ष के बहिष्कार का हिन्दू महासभा ने किया आहवान

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाष कौषिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने देषवासियों से अंग्रेजी नववर्ष के बहिष्कार का आहवान किया है। उन्होंने कहा है कि एक जनवरी अंग्रेजों का नववर्ष है, इसलिये भारतीयों को इसे नहीं मनाना चाहिए। अंग्रेजी नववर्ष का प्रचार-प्रसार भारतीय संस्कृति को नष्ट करनेवाला है। 25 दिसंबर से लेकर एक जनवरी तक शराब व नषा का प्रयोग अत्यधिक बढ़ जाता है, जिससे कारण इसका कुप्रभाव भारतीय युवाओं पर पड़ रहा है। 31 दिसंबर की रात महिलाओं से छेड़खानी एवं अपराध बढ़ जाता है। इसे रोकने के लिये पुलिस को कड़ी मराक्कत करनी पड़ती हैं। इसलिये अपराध और अपसंस्कृति को बढ़ावा देने के जिम्मेबार अंग्रेजी नववर्ष का बहिष्कार करना चाहिए। 31 दिसंबर को बम-पटाखों का प्रयोग भी बहुत होता है, जिसके कारण प्रदूषण का स्तर काफी बढ़ जाता है। हिन्दू महासभा नेताओं ने भारतीय गृहमंत्री से मांग की है कि ठंड़ के कारण बढ़ते प्रदूषण को और नहीं बढ़ने देने के लिये बम-पटाखों के प्रयोग पर कड़ी कारवाई की जाये। उन्होंने कहा कि पटाखों का 31 दिसंबर की परंपरा से कोई संबंध नहीं है। यह अंग्रेजी संस्कृति से जुड़ा भी नहीं है। इसलिये पटाखों के प्रयोग पर पाबंदी लगा दी जाये।

( वीरेष त्यागी )
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

मेघालय हाईकोर्ट न्यायाधीष के भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की वकालत का हिन्दू महासभा ने किया समर्थन, केन्द्र सरकार से कानून बनाने की मांग

नई दिल्ली, 14 दिसम्बर 2018

मेघालय हाईकोर्ट न्यायाधीष के भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की वकालत का हिन्दू महासभा ने किया समर्थन, केन्द्र सरकार से कानून बनाने की मांग

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेष त्यागी ने मेघालय हाईकोर्ट के न्यायाधीष न्यायामूर्ति एस.आर.सेन द्वारा भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की वकालत का पूर्ण समर्थन किया है तथा केन्द्र की राज्य सरकार से भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने के लिये संसद में शीघ्र कानून बनाने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि न्यायामूर्ति एस.आर.सेन की यह बात सौ प्रतिषत सही है कि यदि भारत इस्लामिक देष बना तो यह भारत और पूरी दुनिया के लिये कयामत होगा। हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि धर्मांतरण एवं लव जेहाद के द्वारा बड़े पैमाने पर हिन्दू लड़कियों का विवाह मुस्लिम युवकों से कराकर हिन्दू लड़कियों को बच्चे पैदा करने की मषीन बना दी जाती है। हर मुस्लिमों के कम-से कम 10-15 बच्चे होते हैं। इससे मुस्लिमों की जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है। और हिन्दुओं का अनुपात घटता जा रहा है। हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा है कि जिस दिन भारत में मुस्लिम आबादी हिन्दुओं से अधिक हो जायेगी, उसी दिन भारत इस्लामिक देष बन जायेगा। हिन्दू महासभा नेताओं ने संसद में कानून बनाकर भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने, जनसंख्या नियंत्रण के लिये समान आचार संहिता लागू करने तथा एक विवाह और केवल दो बच्चे का कानून  बनाने की मांग की है। उन्होनें कहा कि कानून ऐसा हो, जिसमें दो से अधिक बच्चे पैदा करने वाले का मताधिकार समाप्त कर दिया जाये।

( वीरेष त्यागी )
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

तृप्ति देसाई पूतना, भूमाता ब्रिगेड़ पूतना ब्रिगेड़ के समान-हिन्दू महासभा

नई दिल्ली,16 नवम्बर 2018

तृप्ति देसाई पूतना, भूमाता ब्रिगेड़ पूतना ब्रिगेड़ के समान-हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा है कि भगवान अयप्पा की मर्यादा को भंग करने का प्रयास करने वाली तथाकथित महिला तृप्ति देसाई पूतना के समान है तथा उसका भूमाता ब्रिगेड़ पूतना ब्रिगेड़ है। जिस प्रकार से पूतना ने भगवान कृष्ण की हत्या करने का प्रयास किया था, उसी प्रकार तृप्ति देसाई भगवान अयप्पा की मर्यादा को भंग करना चाहती है। अखिल भारत हिन्दू महासभा और अन्य हिन्दूवादी संगठनों के पदाधिकारी उसे ऐसा करने नहीं देंगे। भगवान अयप्पा बाल ब्रहमचारी थे, इसलिये माहवारी उम्र की महिलाओं को मंदिर के अंदर प्रवेष की अनुमति नहीं दी जा सकती है। श्री शर्मा ने कहा है कि चाहे पूतना तृप्ति देसाई हो या उसके जैसी कोई और भी पूतना महिलाओं के मंदिर के अंदर जाने की अनुमति कभी भी नहीं दी जायेगी। अगर ऐसी महिलाओं को मंदिर के अन्दर प्रवेष की अनुमति दी गई तो इससे भगवान अयप्पा और उनके करोड़ो भक्तों का अपमान होगा। उन्होंने कहा है कि हिन्दू महासभा के कार्यकर्ता और भगवान अयप्पा के भक्त मुस्तैदी से डटे हैं तथा तृप्ति जैसी किसी भी पूतना महिला का प्रवेष होने नहीं देंगे। हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा ने उच्चतम न्यायालय से अपने आदेष में परिवर्तन करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि यदि उच्चतम न्यायालय अपने आदेष में परिवर्तन नहीं करे तो केन्द्र सरकार अध्यादेष लाकर उच्चतम न्यायालय के निर्णय को बदल दे।

(मुन्ना कुमार शर्मा)
राष्ट्रीय महासचिव

फोनः9312177979